रुकुम घटना, निष्पक्ष छानबिन होस्